पीड़ा उठाने के लिए जीवन बहुत बहुमूल्य है, आपका स्वास्थ्य सर्वोत्तम होना चाहिए

आर्थ्राइटिस तथा जोड़ों की पुरानी पीड़ा से ग्रसित लोगों की प्रभावी रूप से सहायता करने के लिए आयुशक्ति को 35 वर्षों का प्रमाणित अनुभव है।

आयुशक्ति के आर्युर्वेदिक आर्थ्राइटिस उपचार प्रोग्राम से आपको जोड़ों, पीठ, गर्दन और रीढ़ की हड्डी से गहरी जड़े जमा चुके विषाक्त पदार्थों (टॉक्सिन) तथा ब्लॉकेज़ को दूर करने में सहायता मिलती है। सूजन और अकड़न में कमी आती है और अंतत: प्राकृतिक रूप से स्वस्थ, मजबूत और लोचपूर्ण जोड़ों का विकास होता है। इस प्रकार आपको फ्रोज़न शोल्डर, गर्दन में दर्द, पीठ में दर्द, घुटने के जोड़ों में दर्द, स्पान्डिलोसिस, शायटिका पेन में दीर्घकालिक राहत मिलती है। सबसे महत्वपूर्ण बात है कि आप बिना किसी दर्द-पीड़ा के खड़े हो सकते हैं, चल सकते हैं और सीढ़ियां आदि चढ़- उतर सकते हैं।

पता लगाएं कि कैसे आर्थरॉक्स उपचार में प्रमाणित समाधानों से पीड़ा में सुरक्षित और प्राकृतिक रूप से राहत प्राप्त की जा सकती है।

जर्मन डॉक्टरों का यह मानना है कि आयुशक्ति के डॉक्टर पुरानी पीड़ा और रक्तदाब का उपचार करने में सर्वश्रेष्ठ हैं।

पिछले 10 वर्षों से मैं अपने कंधों में गंभीर पीड़ा से ग्रसित था। जिसकी वजह से नहाना, वज़न उठाना, अपने सबसे प्रिय स्पोर्ट्स को खेलना यानि बैडमिंटन, और यहां तक कि पीड़ा की वजह से नींद लेना भी एक समस्या बन गई थी। म्यूनिख में मेरी मित्र डा. मीरा दोर्सी, ने मुझे आयुशक्ति के चिकित्सक से मुलाकात करने के लिए कहा। मुझे थोड़ा संदेह था, लेकिन क्योंकि उसने सुझाव दिया था, तो मैंने सोचा कि एक बार कोशिश करने में कोई हर्ज नहीं है। “ जर्मन होने के नाते, हम जो कुछ भी करते हैं, उसके लिए पूरी तरह से संतुष्ट करना पड़ता है”। मैं अपनी बात पर अडिग था। इस भावना के साथ, मैं म्यूनिख में जर्मनियास्ट्रास 9, मुंचेन में आयुशक्ति क्लिनिक में गया। जब मैं वहां पहुंचा, तो मुझे आर्थ्राराइटिस, सांस लेने में कठिनाई, पुरानी एलर्जी, आईबीएस, त्वचा की समस्याएं, उच्च रक्त शर्करा और उच्च रक्तदाब, बालों की समस्याएं, बांझपन तथा कैंसर से पीड़ित क्लाइन्ट्स की एक लंबी लाइन नज़र आई। मुझे अभी भी भरोसा नहीं हो रहा था और मैं हर चीज को संदेह की नज़र से देख रहा था। इसके बाद मुझे व्यक्तिगत रूप से आयुशक्ति के डॉक्टर के साथ मुलाकात करने का मौका मिला। संदेह के नज़रिए से मैंने आयुशक्ति के डॉक्टर से पूछा.


यूके में रहने वाली डोमनिक की सच्ची कहानी कि उसने किस प्रकार से बिना सर्जरी के अपनी स्पाइनल डिस्क हर्निएशन को ठीक किया.


डोमिनेक, जो कि यूके में सिंगर है, उसे स्टेज पर रिहर्सल करने और गाने के लिए घंटों खड़ा रहना पड़ता था। 1998 में, उसको पीठ में हल्का-हल्का दर्द महसूस होना शुरू हुआ और उसने जल्दी से राहत के लिए पेनकिलर्स का सेवन करना शुरू किया, लेकिन कुछ ही घंटों में पीड़ा फिर से लौट आती थी। धीरे-धीरे उसे अपने नितम्बों, जंघाओं और पिंडलियों में बहुत तेज दर्द होना शुरू हो गया। जब वह खांसती, छींकती या एक खास पोजिशन में आती थी, तो पीड़ा और भी बढ़ जाती थी। पीड़ा बहुत ही तेज और कष्टदायी होती थी।

घुटने के गंभीर दर्द से पूर्णतया लोचशील 82 वर्ष की आयु में सामान्य रक्त शर्करा और बिना किसी पीड़ा के होना वास्तव में अविश्वसनीय लगता है!!

हाल ही में मेरा मुंबई के सर्वाधिक प्रशंसित आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केन्द्र, “आयुशक्ति” में जाना हुआ, जहां पर मुझे एक डॉक्टर से मुलाकात करनी थी। डॉक्टर के केबिन से बाहर आने वाले ग्राहकों के चेहरे पर प्रसन्नता को देखना वास्तव में एक बहुत ही अच्छा अनुभव था। मुझे एक बूढ़ी औरत को डॉक्टर के केबिन में जाते हुए देखकर बहुत हैरानी हुई जो बहुत सक्रिय और विश्वस्त नज़र आ रही थी और उसके चेहरे में गर्मजोशी सी भरी हुई मुस्कान थी। मैंने मन ही मन कहा कि “आयुर्वेद का कितना सच्चा प्रदर्शन है”। इस आयु में भी वह कितनी सक्रिय है! मैं उसके बारे में जानने के लिए बहुत उत्सुक थी और उसी क्षण मुझे पता लगा कि वह आयुशक्ति के डॉक्टर की मां है!! मैं भूल गई कि मैं यहां पर आयुशक्ति के डॉक्टर का इंटरव्यू लेने आई हूं और मैं आश्चर्यजनक रूप से उस सक्रिय महिला से कुछ प्रश्न पूछने के लिए अधिक उत्सुक थी।

श्रीमती शेषाद्री जिनको 10 वर्षों से गर्दन और पीठ में पुराना दर्द था, उन्हें पूरी तरह से राहत मिल गई है?

नमस्ते। मेरा नाम श्रीमती शेषाद्री है। यहां पर आने से पहले, मुझे भी समस्याएं थी। मुझे पीठ की बहुत ही भयानक समस्याएं थी। मैं घर से बाहर नहीं निकल पाती थी। यदि मैं सो जाती थी, तो मेरे लिए उठ कर बैठना मुश्किल हो जाता था। यह मेरे लिए बहुत ही कठिन हो गया था। पूरा दिन बहुत अधिक दर्द। योग, एक्सरसाइज़ या प्राणायाम से भी मुझे मेरी पीड़ा में राहत नहीं मिली। मेरी पड़ोसन के पति ने आयुशक्ति से उपचार प्राप्त किया था। 80 वर्ष की आयु के बाद उनका चलना-फिरना बंद हो गया था। फिर भी उन्होंने आयुशक्ति डॉक्टर के साथ परामर्श किया और सिर्फ 60 दिनों के अंदर, वह पूरी तरह से ठीक हो गया था। अब वह पैदल चल पाते हैं और खुद अपने रोज़मर्रा के काम कर सकते हैं तथा अब वह बिस्तर पर नहीं पड़े रहते हैं। हम इस प्रकार के नाटकीय सुधार से आश्चर्यचकित थे इसलिए मैं अपनी शर्करा, माईग्रेन, उच्च रक्तदाब, पीठ में दर्द, गैस और एसिडिटी के लिए आयुशक्ति में मुलाकात करने आई थी। अभी सिर्फ दो ही महीने हुए हैं। डॉक्टर ने डिटॉक्सीफिकेशन किया, जो मेरे लिए कठिन था लेकिन, फिर भी मैंने वैसा किया। अब मेरी एसिडिटी, माईग्रेन गायब हो गये हैं। उच्च बीपी और रक्त शर्करा कम हो गए हैं, इसलिए मेरे एलोपैथिक डॉक्टर ने मेरी शर्करा और बीपी की दवाएं आधी कर दी हैं। पूरे शरीर में अब कोई दर्द नहीं होता है। बैठने और खड़े होने में थोड़ी कठिनाई होती है, अन्यथा अब मुझे पीठ में दर्द महसूस नहीं होता है। मुझे माईग्रेन से मुक्ति मिल गई है। यहां आयुशक्ति में डॉक्टर बहुत सौम्यता और प्रेमपूर्वक बात करते है। जैसे कि मैं अपने बेटे से बात कर रही हूं और बहुत अधिक स्नेह के साथ वे सभी उपचार करते हैं। मैं किसी भी समय उनसे बात कर सकती हूं, वे हमेशा उपलब्ध रहते हैं। हमें क्या करना चाहिए, हमें कौन सी दवाएं लेनी चाहिए- वे इस मामले में बहुत अच्छे से सहायता करते हैं।” ऐसा श्रीमती शेषाद्री का कहना है।

आर्थरॉक्स उपचार किस प्रकार काम करता है?

आर्थरॉक्स का पहला कदम- निकालना

ब्लॉकेजेस, दाह नष्ट करतो आणि गटमधून आणि पेशींच्या अंतर्भागातून, योग्य प्रकारच्या निर्विषीकरणातून विषे काढून टाकतो जेणेकरून हानी झालेल्या अवयवांना योग्य रक्त पुरवठा होईल आणि पेशींच्या अंतर्भागातील विषारी पदार्थ स्वच्छ होतील.

आर्थरॉक्स का दूसरा कदम- पुनर्स्थापित करना

शक्तिशाली घरेलू उपचारों, डाइट, जीवनशैली परिवर्तन तथा मर्स प्रेशर बिंदुओं से सभी अंगों की मरम्मत और सामान्य कार्यकरण की पुन:स्थापना करना, विशेष रूप से वे अंग जो बीमारी से प्रभावित हो जाते हैं।

आर्थरॉक्स की तीसरा कदम- नवीनीकरण करना

क्षतिग्रस्त या कमज़ोर ऊतकों पर जड़ी बूटी सूत्रों और थेरेपीज़ का इस्तेमाल करके कदम-दर-कदम का पुनर्निर्माण और नवीकरण करना, और इस प्रकार जीवंत युवा स्वास्थ्य का निर्माण करना और पुरानी समस्याओं से दीर्घकालिक राहत प्रदान करना।

 

दअमरीका की तीन वैज्ञानिक पत्रिकाओं – आईएएमजे, आईजेआरएम और जीजेएमआर में प्रकाशित 3 अंतर्राष्ट्रीय शोध पत्रों के अनुसार, यह साबित किया जा चुका है कि आयुशक्ति की आर्थरॉक्स सूजन रोधी है, यह अपक्षय हो चुकी हड्डियों और उपास्थियों को रिपेयर करती है और उल्लेखनीय लोचशीलता और पुरानी पीड़ा से दीर्घकालिक राहत पैदा करती है।

जीजेएमआर-यूएसए, यूके, भारत में प्रकाशित घुटने के दर्द का मामला अध्ययन


आईएएमजे (इंटरनेशनल आयुर्वेदिक मेडिकल जर्नल) में प्रकाशित ऑर्थोपीडिक्स एंड फार्माकोलॉजिस्ट्-टीएनएमसी तथा बीवाईएल नायर हॉस्पिटल, भारत द्वारा किया गया शोध।

आईजेआरएम (इंटरनेशनल जर्नल ऑफ रिसर्च इन मेडिकल साइंसेज) में प्रकाशित आर्थरॉक्स शोध

आर्थरॉक्स (आर्थाइटिस) उपचार किस प्रकार से आपकी सहायता कर सकता है, इसके 6 प्रमाणित प्रभावित तरीके


  • आप पीड़ा, सूजन, पॉपअप साउंड तथा कंधों, गर्दन, पीठ, घुटनों तथा जोड़ों में किस प्रकार से 60 दिनों के अंदर ही पीड़ा से उल्लेखनीय राहत प्राप्त कर सकते हैं, जैसाकि 90% लोगों द्वारा अनुभव किया गया है।
  • आपके जोड़ 90% अधिक लोचपूर्ण और मजबूत महसूस कर सकते हैं।
  • आप दैनिक घरेलू कामों को करने में अधिक स्वतंत्रता महसूस कर सकते हैं।
  • आप खड़े, बैठ और लंबे समय तक चल सकत हैं, और बिना पीड़ा के सीढ़ियां चढ़ और उतर सकते हैं।
  • आप शांति से और गहरी नींद का अनुभव ले सकते हैं।
  • अंतर्राष्ट्रीय शोध पत्रों के अनुसार पेनकिलर्स पर आपकी निर्भरता 90% तक कम हो सकती है।

आपके स्वास्थ्य को पूरी तरह से परिवर्तित करने के लिए 3 कार्य चरण

हमारे आयुर्वेद विशेषज्ञ से परामर्श करें

आपकी ज़रूरतों के मुताबिक तैयार किए गए डाइट प्लान की आपके स्वास्थ्य में सुधार में 50% भूमिका होती है।

आपकी ज़रूरतों के मुताबिक तैयार जड़ी बूटी सूत्रों और डिटॉक्स प्लान से दीर्घकाल तक बने रहने वाले स्वास्थ्य के लिए उल्लेखनीय परिवर्तन विकसित किए जाते हैं।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

मैं अपनी दशा में कितनी तेजी से सुधार देख सकता/ती हूं?

यदि समस्या अभी शुरू हुई है और आप 12 महीनों से कम समय से पीड़ित हैं, तो आप 2-3 महीनों में राहत प्राप्त कर सकते हैं। यदि पीड़ा पुरानी है और आप 2 वर्ष से अधिक समय से पीड़ित है, तो आपको 1-2 वर्ष या अधिक समय के लिए आयुशक्ति के आप के डॉक्टर की सलाह पर जड़ी-बूटियों को जारी रखना पड़ सकता है।

क्या आर्थरॉक्स उपचार से 15 वर्ष पुरानी आर्थाराइटिस पीड़ा में राहत मिल सकती है?

वास्तव में, हां। ऐसी दशाओं में, आर्थरॉक्स उपचार से जोड़ों की लोचशीलता में सुधार करने, पीड़ा को कम करने और उल्लेखनीय रूप से सूजन को कम करने में सहायता मिलती है। आपके आयुशक्ति डॉक्टर की सलाह पर 2-3 वर्षों तक जड़ी-बूटी उपचारों को जारी रखने से आप 80-90% राहत महसूस कर सकते हैं।

क्या आर्थाराइटिस और जोड़ों के दर्द में कोई आहार है जिसका पालन किया जाना चाहिए?

आटा, खट्टे और ख़मीरयुक्त खाद्य पदार्थों, लाल मांस, गैस-पैदा करने वाले खाद्य पदार्थों, भारी बीन्स, अचार, नींबू, इमली, टमाटर, दही का सेवन करने से बचें।

अधिक सब्जियों, मूंग, मूंग दाल, पीली और लाल मसूर की दाल, चावल, मल्टी-ग्रेन्स जैसे मिलेट्स (ज्वार, बाजर, नचनी), क्निनोवा, तथा पत्तेदार हरी सब्जियों का अधिक सेवन करें।

अपने खाने में लहसुन, अदरक, मिर्च, हींग, दालचीनी, जीरा, धनिया आदि का सेवन करें।

पकाई गई सब्जियां जैसे कद्दू, लौकी, फ्रेंच बीन्स, गाज़र, पालक, अन्य पत्तेदार हरी सब्जियां, तोरी, शतावरी, टोंडली, गल्का, ब्रोकोली, काले का सेवन अधिक करें।

कभी कभी आप चिकन और मछली का सेवन कर सकते हैं।

आर्थाराइटिस की दशाओं में कौन से खाद्य पदार्थ संयोजन को अपनाया जाना चाहिए?

यदि समस्या अभी शुरू हुई है और आप 12 महीनों से कम समय से पीड़ित हैं, तो आप 2-3 महीनों में राहत प्राप्त कर सकते हैं। यदि पीड़ा पुरानी है और आप 2 वर्ष से अधिक समय से पीड़ित है, तो आपको 1-2 वर्ष या अधिक समय के लिए आयुशक्ति के आप के डॉक्टर की सलाह पर जड़ी-बूटियों को जारी रखना पड़ सकता है।

पीड़ा, सूजन से राहत प्रदान करने और जोड़ों का गहराई से कायाकल्प करने के लिए आयुशक्ति द्वारा किस प्रकार के जड़ी-बूटी उपचारों को प्रदान किया जाता है?

पेनमुक्तिएमजे 2-2 (2 गोलियां सुबह और 2 गोलियां शाम के खाने के बाद) से पीड़ा, जकड़न, सूजन से मुक्ति मिलती है और जोड़ों के बीच में लोचशीलता बढ़ती है।

पेनमुक्ति संधि-कैल 2-2 (2 गोलियां सुबह और 2 गोलियां शाम के खाने के बाद)। जोड़ों की ताकत में सुधार होता है, कैल्शियम के अपटेक में सुधार होता है ताकि हड्डियों को मजबूत किया जा सके और हड्डियों के अपक्षय की रोकथाम की जाती है।

पेनमुक्ति क्रीम- दिन में 3-4 बार लगाएं। जकड़न, पीड़ा और सूजन से तीव्र और दीर्घकालिक राहत।

सुहृदय – 2-2 (2 गोलियां सुबह और 2 गोलियां शाम के खाने के बाद) से चयापचय में सुधार होता है, रक्त परिसंचरण को बढ़ावा मिलता है और जिसके कारण विषाक्त तत्वों (टॉक्सिन) से कारण बनी ब्लॉकेज़ से राहत मिलती है।

संधियोग- 1-1 (1 गोली सुबह और 1 गोली शाम के खाने के बाद) से पुरानी लगातार बनी रहने वाली पीड़ा से राहत मिलती है, वात संचलन को ठीक करती है और जोड़ों के लिए गहन कायाकल्प मिलता है, और जोड़ों को मजबूत करती है।

किसको फ्रोज़न शोल्डर होने की संभावना सबसे अधिक होती है?

अक्सर फ्रोज़न शोल्डर उन लोगों में देखा जाता है जिनको हाल ही में चोट लगी है या फ्रैक्चर हुआ है।

यह मधुमेह से पीड़ित लोगों में भी आम होता है।

यदि आप घंटों तक कम्प्यूटर पर काम करते रहते हैं, तो आपको यह समस्या हो जाएगी।

कुणाचे खांदे गोठलेले असण्याची जास्त शक्यता आहे?

ज्या लोकांना अलिकडेच दुखापत किंवा अस्थिभंग झाला आहे त्यांचे सांधे गोठण्याची सर्वात जास्त शक्यता आहे.

मधुमेह असलेल्या व्यक्तींमध्ये सुद्धा ते सामान्य आहे.

तुम्ही तुमच्या संगणकावर जास्त तास काम करत असाल तर, ही समस्या तुम्हाला होऊ शकते.

क्या जोड़ों में लोचशीलता में सुधार करने और सूजन तथा पीड़ा को कम करने में घरेलू नुस्खे सहायक साबित होते हैं?

अस्थाई राहत के लिए घरेलू नुस्खे सहायक साबित होते हैं। पीड़ा से संबंधित पुरानी दशाओं के लिए, जड़ी बूटी उपचारों को अपनाने और आयुशक्ति के डॉक्टर की सलाह के अनुसार जल्दी से राहत प्राप्त करने के लिए घरेलू नुस्खों के साथ विशेष रूप से आर्थरॉक्स उपचार को अपनाया जाना चाहिए।

आर्थरॉक्स उपचार की कितनी लागत आती है?

समस्या जितनी पुरानी होगी, उपचार में उतना ही उतार-चढ़ाव आता है। जानकारी और उपचार मार्गदर्शन के लिए अपने आसपास आयुशक्ति के डॉक्टर के साथ परामर्श करें। टोल-फ्री नम्बर पर कॉल करें: 18002663001.

क्या इस उपचार में कोई सर्जरी शामिल है?

नहीं। आयुर्वेद उपचार की प्राकृतिक, प्राधिकृत विधियों में विश्वास रखता है।

क्या कोई कामकाजी व्यक्ति इस उपचार को ले सकता है?

हां, कोई भी कार्यशील पुरूष या महिला इस उपचार को करवा सकता है, लेकिन उनको अपने समय को समायोजित करना होगा।

रूमेटॉइड आर्थ्राइटिस को कम करने में आयुर्वेद कैसे काम करता है?

आयुशक्ति में विशेष आर्थरॉक्स उपचार से सबसे पहले जोड़ों से वात और आम को कम किया जाता है, इस प्रकार सूजन, पीड़ा और अकड़न में कमी होती है। इसके बाद, यह प्रतिरक्षा प्रणाली को पौषण प्रदान करता है और हड्डियों और मांसपेशियों को मजबूत करता है। क्योंकि रूमेटिज़्म एक पुरानी समस्या होती है, यह प्रक्रिया 2-3 साल तक चलती रहती है। लेकिन पीड़ा और जकड़न में राहत 2-3 महीनों में शुरू हो जाती है।

क्या आर्थरॉक्स द्वारा स्लिप डिस्क का भी उपचार किया जा सकता है?

हाँ। उचित आहार, जड़ी-बूटी उपचारों और आर्थरॉक्स डिटॉक्स उपचार से, 4-6 महीनों के भीतर आप में उल्लेखनीय सुधार होता है। आमतौर पर, 35-40 साल की आयु के बाद, अनेक लोगों को हर्निया या डिस्क में फुलावट का सामना करना पड़ता है। यदि जड़ से इसका उपचार आयुर्वेद के साथ नहीं किया जाता है, और केवल पेनकिलर्स के साथ इसको मैनेज किया जाता है, तो इससे अपक्षय हो सकता है, और अंत में 5-10 वर्षों में, डिस्क स्पेस कम हो जाता है और रीढ़ की हड्डियों के दो जोड़ों (बर्टिब्र) में तंत्रिका संकुचित हो जाती है। इससे टांगों में दर्द, पीठ से टांग के पिछले हिस्से में झनझनाहट, सुन्नपन या जलन होती है। हमारी रीढ़ की हड्डियों के जोड़ एक कप की तरह होते हैं, जिसमें डिस्क के रूप में कुशनिग जेली होती है। आयु बढ़ने के साथ-साथ, अतिशेष वायु, या गलत संचलन के कारण यह कप टूट जाता है और जैली का उसमें से रिसाव हो जाता है, जिसके स्लिप डिस्क या स्पॉन्डिलोसिस हो जाता है।

क्या यह सच है कि अल्कोहल से यूरिक एसिड में बढ़ोतरी होती है?

नियमित रूप से अल्कोहल, विशेष रूप से बीयर का सेवन करने से, और एक्सरसाइज़ न करने, गलत खाद्यपदार्थों के सेवन, तथा वज़न बढ़ने के कारण चयापचय और गुर्दे में अवरोध पैदा हो जाते हैं। इस प्रकार, अतिशेष यूरिक एसिड बनने लगता है और गुर्दे उन्हें बाहर नहीं निकालते हैं। इस प्रकार वह हड्डियों में जमा हो जाता है।

उपचार कहां पर उपलब्ध है?

मुंबई, गोवा और दिल्ली में आयुशक्ति केन्द्रों में उपचार उपलब्ध है। समस्त उपचार आयुशक्ति डॉक्टरों के सुपरविज़न में किया जाता है।

यदि मुझे मधुमेह, बीपी और कोलेस्ट्रॉल है, तो क्या मैं ऑर्थरॉक्स उपचार ले सकता/ती हूं?

सुनिश्चित रूप से हां। ऑर्थरॉक्स से आपको मधुमेह को नियंत्रित करने, बीपी और कोलेस्ट्रॉल को उल्लेखनीय रूप से नियंत्रित करने में मदद मिलती है।

मुझे ऑर्थरॉक्स उपचार के लिए आयुशक्ति चिकित्सालय में कितनी बार मुलाकात करनी होगी?

आपकी समस्याओं और आपके लिए सुझाए गए उपचारों के अनुसार हर महीने आपको एक या दो बार आयुशक्ति डॉक्टरों के साथ परामर्श करने के लिए मुलाकात करनी होगी। आर्थरॉक्स उपचार अवधि के लिए, आपको 15-25 दिनों के लिए हर रोज़ आयुशक्ति चिकित्सालय में उपचार प्राप्त करने के लिए आना होगा, जैसाकि आयुशक्ति डॉक्टर द्वारा सलाह दी गई होगी।

क्या मैं आयुशक्ति केन्द्र में ठहर सकता हूं और आर्थरॉक्स उपचार प्राप्त कर सकता/ती हूं?

आयुशक्ति मुंबई (मलाड पश्चिम) और आयुशक्ति गोवा में जिनका गहन उपचार किया जाता है उन अपने क्लाइंट के लिए इन-हाउस ठहरने की सुविधा हैं। ठहरने और उपचार सुविधाओं के बारे में अधिक जानकारी के लिए, अभी टोल फ्री नम्बर 18002663001 कॉल करें, या [ईमेल सुरक्षित] पर ईमेल करें।

वास्तविक लोग। वास्तविक स्वास्थ्य लाभ

 मैं पिछले 25 वर्ष से दमा और खांसी से पीड़ित थी। मैं पिछले कई वर्षों से इन्हेलर का इस्तेमाल कर रही थी और मुझे हर रोज़ कम से कम 3 स्प्रे लेने पड़ते थे। मेरी बहू ने उपचार के लिए मुझे आयुशक्ति जाने का सुझाव दिया, जिसके बाद मैं परिणाम से बहुत संतुष्ट थी। डॉ. प्रियंका कटाले ने 5 महीनों तक उपचार करने में मेरी सहायता की और अब स्प्रे की मेरी खुराक 3-4 दिनों में 1 बार तक रह गई है। आयुशक्ति का धन्यवाद।
–दीपाली देसाई

मैं पिछले 20 वर्षों से एलर्जिक सर्दी, खांसी से पीड़ित था। अलग-अलग उपचारों को प्राप्त करने के बाद, मुझे समस्या से केवल अस्थायी राहत मिली। आयुशक्ति क्लिनिक में जाने के बाद, मुझे 1 हफ्ते में ही पूरी तरह से आराम मिल गया और 2 महीनों के भीतर मेरी प्रतिरक्षा (इम्यूनिटी) भी बढ़ गई।
–भारत बोरसे

 आयुशक्ति में कर्मचारी बहुत अच्छे हैं और बहुत देखभाल करने वाले हैं। आयुशक्ति कर्मचारी बहुत सहायक थे डॉक्टर हमेशा रोगी, उनकी चिकित्सा समस्याओं को याद रखते हैं और उन्हें नियमित जांच के लिए बुलाते हैं। आयुशक्ति ठाणे में बहुत अच्छा अनुभव रहा।
–प्रितिश म्हसकर

Close
Close
Close

My Cart

Shopping cart is empty!

Continue Shopping

This will close in 0 seconds

    Treatment Form


    This field is required


    This field is required


    This field is required



    This field is required



    This field is required



    This field is required



    This field is required



    This field is required



    This field is required



    This field is required



    This field is required



    This field is required



    This field is required



    This field is required


    This field is required



    This field is required

    Fees - 300Rs


    This will close in 0 seconds

    Translate »
    loader

    Treatments: Arthritis | Asthma | Weight Loss | Skin | Infertility | Acidity | Diabetes | Stress | PCOS - PCOD | Hairfall | Knee Pain | Blood pressure | Thyroid | Headache | Cold Cough | Child problems

     

    E-books: Arthritis | PCOD | Immunity | Psoriasis | Asthma | Stress | Acidity | Thyroid | Charaka Samhita | Ashtanga HridayaFrozen ShoulderObesity

     

    Research Papers: Immunity | Asthma | Diabetes | Arthritis | Infertility | Diffuse Axonal Injury | Hypertension

     

    Blogs: A | B | C | D | E | F | G | H | I | J | K | L | M | N | O | P | Q | R | S | T | U | V | W | X | Y | Z

     

    Ayushakti.com © 2024. All Rights Reserved.